Html क्या है, html कैसे सीखे , What is Html in hindi? Html Tutorial

आज के post में हम html programming language के बारे में सीखेंगे.इस post से मै आपको html के बारे में बताऊंगा , की html क्या है , html सीखना क्यों जरुरी है और इसका उपयोग क्या है |

मै पूरी कोशिश करूँगा की आपको easily से easily आपके अपनी Hindi language में programming language सिखा सकू , अगर आप इस post से कुछ सीखते है तो मुझे बहुत ख़ुशी होगी | तो चलिए फिर start करते है |

? क्या आप जानते है  html एक programming language नहीं है , यह सिर्फ markup के लिए use किया जाता है

Html क्या है

Html क्या है …?

html एक markup language है, जिसका use web page बनाने के लिए किया जाता है | html का full form hyper text markup language होता है |आइये निचे में इनका नाम का मतलब जान लेते है

Hypertext – यहाँ hypertext means जब आप किसी text (linking another page) पर click करते है तो आपके सामने उससे related page open होती है .means आप एक page से दुसरे page पर jump कर जाते है |

Markup – markup means tag को use करके document का formatting करना होता है |

example के तौर पर अगर आप text को bold करना चाहते है , तो <b> tag,क्योकि आप particular text को format कर रहे है

language – यहाँ पर language का मतलब programming language से है, menas ऐसे set of instruction जो आपके काम को आसन कर दे Programming language कहलाते है.

इन सभी कारणों से ही html एक markup language है |

अब आपको अपने question का answer सही तरीके से मिल गया होगा की html क्या है , अब देखते है html सीखना क्यों जरुरी है.

Html सीखना क्यों जरुरी है…?

Html web page बनाने का एक primary language माना जाता है | अगर आप web developing में interested है तो आपको html से ही start करना चाहिए,नहीं तो आपको बाकि language’s जो web development से related है उसे सिखने में परेशानी आ सकती है |

साथ ही साथ html एक structure के रूप में कार्य करती है , जो text की basic formatting होती है , वो html के through ही होती है ,जैसे किसी text को bold करना या फिर paragraph use करना etc.

अगर आप किसी भी famous platform के through अपना blog create करते है , जैसे blogger या wordpress, तो भी थोड़ी बहुत html की knowledge होना चाहिए,जिससे आपको editing में आसानी हो,अगर आपसे editing भी  नहीं हो पाती,तो कोई बात नहीं, At least आप इतना जरुर समझ जायंगे,की आपके blog पर क्या किया जा रहा है, developer द्वारा.

Html के Editors

html की coding plain text होती है, जिन्हें ASCII(American standard code for information interchange ) के रूप में भी जाना जाता है |html की coding किसी भी text editor के साथ आसानी के साथ की जा सकती है | वैसे तो market में बहुत से आपको text editor मिल जायंगे , लेकिन notepad एक ऐसा editor है , जो windows operating system के साथ free में मिलता है |

अगर आप mac user है , तो अपने system का free text editor use कर सकते है,साथ ही साथ अगर आप linux operating system use कर रहे है , तो vi editor का use कर सकते है , जो linux में terminal के साथ Include रहती है .

इस html editor के साथ बस इस बात की ध्यान रखनी पढ़ती है , की file save करते समय file का extension change कर दे , text file में by default file का extension (.txt) होता है उस extension को change करके (.htm या .html ) कर दे |अब आप अपना coding का output अपने मन पसंद browser पर देख सकते है |

Web Browsers

Market में काफी सारे web browser(google chrome , Mozilla firefox , safari , internet explorer)availableहै , आप अपने पसंद का जो आपको suitable लगे use कर सकते है | html programming में केवल browser का use output देखने के लिए किया जाता है .

? याद रखे की web browser tag को display नहीं करते , बल्कि वो tag से related effect को browser पर दिखाता है

Html में programming करने के लिए कुछ खास tips:-

  • Html बाकि programming language की तरह case sensitive नहीं होता | means html में <b>और <B> का मतलब एक ही होगा |
  • File save करते समय file का extension (.htm या .html ) करना आनिवार्य है|
  • आप html program को run/execute कराने के लिए ऐसे browser का use करे जो सभी प्रकार के tag का support करता हो |
  • अपने browser window में image को प्रदर्शित करने के लिए सही प्रकार के image file select करे , flash image file को browser window में display कराने में दिक्कत आ सकती है
  • अगर आप html में coding में किसी तरह की गलती करते है तो browser window पर बाकि programming language की तरह error show नहीं होगा बल्कि वहा पर आपके content में उस तरह का effect नहीं आयगा जिस तरह से आप चाहते थे |
  • अगर आप coding करते समय अपने content में space देते है , या फिर थोडा सा content type करने के पश्चात आप new line पर चले जाते है तो browser पर आपके इस new line and space का कोई भी effect नहीं दिखेयागा , browser इन्हें ignore कर देता है | हलाकि आप tag’s का use करके new line and space create कर सकते है |
  • html elements को tag के through represent किया जाता है .
  • कोई भी browser किसी भी तरह के tags को show नहीं करता.

Professional Custom Email Address कैसे बनाये blog के लिए

Conclusion

i hope आपको यह post अच्छी लगी होगी , अब मै रोज इसी तरह नयी – नयी post लाऊंगा html के बारे में , so आप हमसे लगतार जुड़े रहे ताकि आपको नयी नयी post हमारी site से मिलते रहे

comment करके बताये ,आपको यह  What is Html in hindi , Html क्या है, html कैसे सीखे ?  कैसी लगी ,अपने  friends,family के साथ  यह post share करना न भूले , अगर आपका किसी भी प्रकार का question है , तो आप हमें comment के माध्यम से पुछ सकते है

share this article Html क्या है,basic बाते html के बारे में हिंदी में,html कैसे सीखे ?

agar aapka koi sawaal hai toh hamse puche