Karl Marx Quotes in Hindi | कार्ल मार्क्स के अनमोल विचार

जर्मन के महान दार्शनिक, अर्थशास्त्री  और वैज्ञानिक समाजवाद के  प्रणेता थे। आज हम इनकी अनमोल विचारो के बारे  में जानेंगे.

पूरा नाम/full nameKarl Heinrich Marx/ कार्ल हेंरिच मार्क्स
जन्म/DOB    May 5, 1818
जन्म स्थान  Trier, Kingdom of Prussia
राष्ट्रीयताGerman                                                                                    
Died14 March 1883

Karl Marx Quotes in Hindi कार्ल मार्क्स के अनमोल विचार

Karl Marx Quotes in Hindi #1

पूँजी मृत श्रम है , जो पिशाच की तरह केवल जीवित श्रमिकों  का खून चूस कर जिंदा रहता है , और जितना अधिक ये जिंदा रहता है उतना ही अधिक श्रमिकों को चूसता है .

Karl Marx Quotes in Hindi #2

कोई भी जो इतिहास की कुछ जानकारी रखता है वो  ये जानता है कि महान सामाजिक  बदलाव बिना महिलाओं के उत्थान के असंभव हैं . सामाजिक प्रगति महिलाओं की सामजिक स्थिति, जिसमे बुरी दिखने वाली महिलाएं भी शामिल हैं ; को देखकर मापी जा सकती है ,

Karl Marx Quotes in Hindi #3

शाशक  वर्ग को कम्युनिस्ट क्रांति के डर  से कांपने दो . मजदूरों के पास अपनी जंजीरों के आलावा और कुछ भी खोने को नहीं है . उनके पास जीतने को एक दुनिया है . सभी देश के कामगारों एकजुट हो जाओ।

Karl Marx Quotes in Hindi #4

इतिहास कुछ भी नहीं करता . उसके पास आपार धन नहीं होता , वो लड़ियाँ नहीं लड़ता . वो तो मनुष्य हैं, वास्तविक , जीवित , जो ये सब करते हैं .

Karl Marx Quotes in Hindi #5

इसलिए पूंजीवादी उत्पादन टेक्नोलोजी विकसित करता है , और तरह-तरह की प्रक्रियाओं को सम्पूर्ण समाज में मिला देता है; पर ऐसा वो सिर्फ संपत्ति के मूल स्रोतों – मिटटी और मजदूर को सोख कर कर करता है .

Karl Marx Quotes in Hindi #6

पूंजीवादी समाज में पूँजी स्वतंत्र और व्यक्तिगत है , जबकि जीवित व्यक्ति आश्रित है और उसकी कोई वैयक्तिकता नहीं है .

Karl Marx Quotes in Hindi #7

यह बिल्कुल असंभव है कि प्रकृति के नियमों से ऊपर उठा जाए . जो ऐतिहासिक परिस्थितियों में बदल सकता है वह महज वो रूप है जिसमे ये नियम खुद को क्रियान्वित करते हैं .

Karl Marx Quotes in Hindi #8

हमें ये नहीं कहना चाहिए कि एक आदमी के एक घंटे की कीमत दूसरे आदमी के एक घंटे के बराबर है , बल्कि ये कहें कि एक घंटे के दौरान एक आदमी उतना ही मूल्यवान है जितना कि एक घंटे के दौरान कोई और आदमी . समय सबकुछ है , इंसान कुछ भी नहीं : वह अधिक से अधिक समय का शव है .

Karl Marx Quotes in Hindi #9

शाशक वर्ग के विचार हर युग में सत्तारूढ़ विचार होते हैं, यानि जो वर्ग समाज की भौतिक वस्तुओं पर शाशन करता है , उसी समय में वह उसके बौद्धिक बल पर भी शाशन करता है।

Karl Marx Quotes in Hindi #10

मानसिक श्रम का उत्पाद – विज्ञान – हमेशा अपने मूल्य से कम आँका जाता है , क्योंकि इसे पुनः उत्पादित करने में लगने वाले श्रम-समय का इसके मूल उत्पादन में लगने वाले श्रम-समय से कोई सम्बन्ध नहीं होता .

Karl Marx Quotes in Hindi #10

सभ्यता और आमतौर पे उद्योगों के विकास ने हमेशा से खुद को वनों के विनाश में इतना सक्रीय रखा है कि उसकी तुलना में हर एक चीज जो उनके संरक्षण और उत्पत्ति के लिए की गयी है वह नगण्य है .

Karl Marx Quotes Hindi #10

जितना अधिक श्रम का विभाजन और मशीनरी का उपयोग बढ़ता है , उतना ही श्रमिकों के बीच प्रतिस्पर्धा बढती है , और उतनी ही उनका वेतन कम होता जाता है।

Karl Marx Quotes Hindi #11

इतिहास खुद को दोहराता है , पहले एक त्रासदी की तरह , दुसरे एक मज़ाक की तरह  .

Karl Marx Quotes Hindi #12

दुनिया के मजदूरों एकजुट हो जाओ ; तुम्हारे पास  खोने को कुछ भी नहीं है ,सिवाय अपनी जंजीरों के

Karl Marx Quotes Hindi #13

नौकरशाह के लिए दुनिया महज एक हेर-फेर करने की वस्तु है .

Karl Marx Quotes in Hindi #14

ज़रुरत तब तक अंधी होती है जब तक उसे होश न आ जाये . आज़ादी ज़रुरत की चेतना होती है .

Karl Marx Quotes in Hindi #15

बहुत सारी उपयोगी चीजों के उत्पादन का परिणाम बहुत सारे बेकार लोग होते हैं .

Karl Marx Quotes in Hindi #16

अमीर गरीब के लिए कुछ भी कर सकते हैं लेकिन उनके ऊपर से हट नहीं सकते .

Karl Marx Quotes in Hindi #17

अनुभव सबसे खुशहाल लोगों की प्रशंशा करता है , वे जिन्होंने सबसे अधिक लोगों को खुश किया .

Karl Marx Quotes in Hindi #18

लोगों की ख़ुशी के लिए पहली आवश्यकता धर्म का अंत है .

Karl Marx Quotes in Hindi #19

बिना किसी शक के मशीनों ने समृद्ध आलसियों की संख्या बहुत अधिक बढ़ा दी है .

Karl Marx Quotes in Hindi #20

पूँजी मजदूर की सेहत या उसके जीवन की लम्बाई के प्रति लापरवाह है ,जब तक की उसके ऊपर समाज का दबाव ना हो .

Karl Marx Quotes in Hindi #21

धर्म दीन प्राणियों का विलाप है , बेरहम दुनिया का ह्रदय है और निष्प्राण परिस्थितियों का प्राण है . यह लोगों का अफीम है .

दोस्तों मुझे उम्मीद है , की आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी , ये थे कुछ Karl Marx quotes, इन्हें पढ़कर आप जरुर मोटीवेट हुए होंगे ,अगर आपको यह पोस्ट अच्छी लगी , तो कृपया अपने विचार comment के माध्यम से बताये.

ये motivational quotes अपने friends और family के साथ share करना न भूले .

Related Post